सवा दो लाख शिक्षकों की नियुक्ति 2023, सरकार की तरफ से सबसे बड़ी भर्ती भर्ती से संबंधित सभी रोड मैप

Sikshak Vacancy Update 2023: राज्य में सरकारी स्कूलों में जल्द ही करीब सवा दो लाख शिक्षकों की नियुक्ति होगी इस चरण में शिक्षक और लाइब्रेरियन की नियुक्ति किया जाएगा नियुक्ति के लिए एक आयोग का भी चयन किया जाएगा अभी तक जो नियुक्ति हुई है वह नियोजन इकाई करती रही है पहली बार 38 जिलों में इतनी ही नियोजन इकाई गठित की जाएगी सभी मेघा सूची योग्यता और शिक्षक पात्रता परीक्षा के आधार पर बनेगी और जिला प्रशासन के नेतृत्व में बहाली होगा शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर ने शुक्रवार को ट्वीट करके यह जानकारी दी सातवें चरण के लिए विज्ञापन जल्द जारी होने वाला है

सरकार शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया में बड़ा बदलाव करने जा रही है। शिक्षक नियोजन का अधिकार पंचायतों व नगर निकायों से वापस लिया जाएगा। पूरी शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया पारदर्शी, त्रुटिरहित बनाने के उद्देश्य से केंद्रीयकृत एवं निष्पक्ष आयोग से कराने की रूपरेखा तैयार की जा रही है। पुरानी शिक्षक नियुक्ति नियमावली के तहत 9222 नियोजन इकाइयां थीं, जबकि प्रस्तावित नियमावली में नियोजन इकाइयों की संख्या जिलों की संख्या के बराबर अर्थात 38 रह जाएगी। अब अभ्यर्थियों को केवल एक आवेदन करना होगा।

बिहार जीविका नई भर्ती फटाफट करे आवेदन फॉर्म भरने से सम्बंधित सभी जानकारी

बिहार शिक्षक भर्ती सबसे बड़ी अपडेट- Sikshak Vacancy Update

इसी में वे स्कूलों में पदस्थापन का विकल्प रखेंगे, जबकि पहले एक अभ्यर्थी कई नियोजन इकाइयों में आवेदन करने को मजबूर होता था। शिक्षक संगठनों तथा अभ्यर्थियों ने सरकार तथा शिक्षा मंत्री से इस संबंध में गुहार लगाई थी। शिक्षक नियुक्ति नियमावली 2020 में कई महत्वपूर्ण बदलाव करते हुए शिक्षक नियुक्ति नियमावली 2023 बनाई जा रही है। नयी नियमावली को मंजूरी के लिए शीघ्र कैबिनेट में भेजा जाएगा। इसी के आधार पर सातवें चरण में शिक्षकों की भर्ती होगी।

Sikshak Vacancy Update

सातवें चरण रिक्तियों की संख्या
माध्यमिक स्कूल 44193
उच्च माध्यमिक स्कूल 89734
प्राथमिक विद्यालय 60000
शारीरिक शिक्षा और स्वास्थ्य अनुदेशक 6000
कंप्यूटर लेबोरेटरी सहायक एवं अन्य 5000

मेधा सूची कैसे बनेगी

पुरानी नियुक्ति नियमावली में मेधा अंक की गणना नियोजन इकाई द्वारा मैट्रिक, इंटरमीडिएट, स्नातक, स्नातकोत्तर एवं प्रशिक्षण में प्राप्त अंकों के प्रतिशत एवं पात्रता परीक्षा में प्राप्त अंकों के वेटेज के आधार पर होती थी नई नियमावली में भी लगभग वही व्यवस्था बनी रहेगी और मेधा अंक के आधार पर आयोग द्वारा प्रशासी विभाग के परामर्श से निर्धारित किया जाएगा।

फायदा क्या

पहले नियुक्ति हेतु चयन की अनुशंसा नियोजन इकाई द्वारा की जाती थी, परंतु नई व्यवस्था के तहत नियुक्ति हेतु चयन की अनुशंसा प्रस्तावित आयोग द्वारा किया जाएगा। अलवत्ता चयनित अभ्यर्थियों के बीच नियुक्ति पत्र का वितरण जिला प्रशासन करेगा। केंद्रीयकृत और ऑनलाइन आवेदन लेने की व्यवस्था की जा रही है। आवेदकों को केवल एक आवेदन देना होगा। जबकि उनकी उम्मीदवारी उनके दिए गए विकल्पों के अनुसार सभी जगह होगी। इससे आवेदकों के धन एवं श्रम की बचत भी होगी।

चार के बदले एक नियोजन नियमावली

वर्तमान में चार नियमावलियों के तहत शिक्षकों के नियोजन में चार प्रकार के प्रावधान थे। इसमें जिला परिषद माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय सेवा नियमावली, बिहार नगर निकाय माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय सेवा नियमावली, बिहार पंचायत प्रारंभिक विद्यालय सेवा नियमावली तथा बिहार नगर प्रारंभिक विद्यालय सेवा नियमावली थी। नयी नियमावली में केवल एक प्रावधान होगा, जो सभी प्रकार के शिक्षकों पर लागू होगा। यानी, प्रारंभिक शिक्षकों से लेकर उच्च माध्यमिक तक के शिक्षकों, पुस्तकालयध्यक्षों, प्रयोगशाला सहायकों, अनुदेशकों की नियुक्ति के लिए एक ही नियमावली होगी।

विकास मित्र के पद हेतु आवेदन आमंत्रित, यहाँ से आवेदन शुरू है नोटिस डाउनलोड करें पढ़े पूरी जानकारी

विशेष शिक्षक व सहायकों की भी नियुक्ति

पहले की नियमावली में विशेष शिक्षक तथा प्रयोगशाला सहायकों की नियुक्ति का प्रावधान नहीं था। नयी नियमावली में इसका प्रावधान प्रस्तावित है। पुरानी शिक्षक नियुक्ति नियमावली में ग्राम पंचायत, पंचायत समिति, जिला परिषद, नगर निगम, नगर परिषद, नगर पंचायत के स्तर पर गठित अलग-अलग नियुक्ति प्राधिकार व अनुशासनिक प्राधिकार का गठन किया गया था। नई शिक्षक नियुक्ति नियमावली में जिला स्तर पर एक ही स्थानीय निकाय नियुक्ति प्राधिकार व अनुशासनिक प्राधिकार का गठन होगा।

जल्द ही सातवें चरण की नियुक्ति होने जा रही है। वर्ष 2023 नियुक्ति का वर्ष होने वाला है। कोई अभ्यर्थी घबराएं नहीं। महीना भर के अंदर नियोजन नियमावली आपके बीच आ जाएगी। सारी मेधा सूची योग्यता और शिक्षक पात्रता परीक्षा के आधार पर बनेगी और जिला प्रशासन के नेतृत्व में बहाली होगी। किसी गड़बड़ी की कोई गुंजाइश नहीं रहेगी प्रो. चंद्रशेखर, शिक्षा मंत्री

राजपत्रित अधिकारी होंगे नियोजन समिति के अध्यक्ष

पुरानी नियमावली में सभी नियोजन इकाइयों के अध्यक्ष को नियोजन समिति का अध्यक्ष बनाया गया था। अब जिला स्तरीय राजपत्रित पदाधिकारी को समिति का अध्यक्ष बनाने की योजना है। नई नियमावली के बाद शिक्षकों का पद जिला स्तर का संवर्ग हो जाएगा जबकि पुरानी नियमावली में विषयवार एवं नियोजन इकाई वार अलगअलग संवर्ग था।

India Post GDS Recruitment 2023 ग्रामीण डाक सेवक के 40889 पदों पर बिना परीक्षा 10वीं के Mark के आधार पर नोटिफिकेशन जारी

पुरानी परेशानियों को भी किया गया है दूर

पुरानी नियुक्ति नियमावली के तहत शिक्षकों का संवर्ग विभिन्न नियोजन इकाई के अंतर्गत ही होता था। इससे जिला के अंतर्गत विभिन्न नियोजन इकाई में भी स्थानांतरण में कठिनाई होती थी। यही नहीं आरक्षण रोस्टर से लेकर पद की रिक्तता संबंधी कई व्यावहारिक कठिनाइयां उत्पन्न होती थीं। लेकिन नई नियुक्ति नियमावली में जिला स्तरीय संवर्ग होगा। इससे बेहतर सेवा शर्त और शिक्षा विभाग का प्रभावी नियंत्रण स्थापित हो सकेगा। पुरानी शिक्षक नियुक्ति नियमावली में मात्र वेतन संरक्षण का प्रावधान था, जबकि नई शिक्षक नियुक्ति नियमावली में सेवा निरंतरता एवं वेतन संरक्षण का स्पष्ट प्रावधान होगा।

क्यों पड़ी जरूरत

पुरानी नियोजन नियमावली के तहत एक चरण के नियोजन में ही ढाई से तीन साल लग रहे थे। इसके बाद भी बड़ी संख्या में पद रिक्त रह जा रहे थे। यही नहीं नियोजन में कई तरह की गड़बड़ियों की शिकायतें आ रही थीं।

पटना हाई कोर्ट असिस्टेंट के 550 पदों के लिए आवेदन का नोटिफिकेशन जारी

और क्या-क्या होगा

नई नियुक्ति नियमावली के तहत शैक्षणिक प्रशासन को पारदर्शी बनाने एवं शिक्षक, पुस्तकालयध्यक्ष, प्रयोगशाला सहायक व अनुदेशकों के सेवा संबंधित विषयों यथा अवकाश स्वीकृति, वेतन भुगतान, वेतन वृद्धि, प्रोन्नति एवं अन्य मामलों की तत्परता से निष्पादन के लिए वेब पोर्टल बनेगा

PM Kisan Yojna Village farmer Listnew Click Here
Join Telegram new Click Here
Home Page new Click Here
Official Websitenew Click Here
Direct Link To Check New Beneficiary List Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *